आपका निरंतर प्रयास आपके प्रदर्शन को सटीक बनाता है।

कर्म करना और इसका फल प्राप्त होना, दोनों अलग – अलग बातें हैं I क्योंकि जब आप अपना लक्ष्य निर्धारित कर उसके लिए मेहनत करना प्रारम्भ करते हैं तो शायद ये आवश्यक नहीं कि इसका परिणाम तुरंत मिल जाए. लेकिन ये अवश्य है कि जब आप किसी खिलाड़ी की तरह निरंतर अभ्यास करते हैं. तो आप धीरे धीरे अपने लक्ष्य की तरफ अग्रसर होते हैं. लक्ष्य को हासिल करने के लिए बहुत सी महत्वपूर्ण बातों की आवश्यकता होती हैI

जैसे जीवन में सही समय पर सही लक्ष्य का चयन करनाI लक्ष्य के अनुरूप अपनी दिनचर्या का निर्माण करनाI I और सबसे महत्वपूर्ण उस दिनचर्या को लक्ष्य की प्राप्ति तक बिना किसी शर्त के लगातार करते रहनाI

कभी – कभी इंसान सक्षम होते हुए भी सफल नहीं होता है. मैंने ऐसा महसूस किया है या आप कह सकते हैं कि यह मेरा अनुभव है कि सक्षम होने से ज्यादा महत्वपूर्ण है निरंतर उसके लिए किया जाने वाला प्रयास I प्रयास अगर निरंतर किया जाय तो वह आपको अपने कार्य में किसी योद्धा की तरह निपुण बना देता हैI और किसी कार्य में निपुण होना उस कार्य को करने के लिए आपकी योग्यता को सर्वश्रेष्ठ बनाता हैI आपका निरंतर प्रयास आपके प्रदर्शन को सटीक बनाता है I आपका निरंतर प्रयास आपके कार्य में आपको अपनी खामियों को दूर करने के लिए अवसर देता है|

आपके विश्वास को मजबूत बनाता है और आपके कार्य में होने वाली त्रुटियों को दूर करके आपको एक सफल साधक और दूसरों से बेहतर बनाता हैI

एक सपना जादू से हकीकत नहीं बनता; इसमें पसीना, दृढ़ संकल्प और कड़ी मेहनत लगती है।

किसी कार्य को अच्छी तरह करने के लिए उसे अच्छी तरह सीखना आवश्यक है I और अच्छी तरह सीखने के लिए आपको एक दिनचर्या बनानी होती है जिसे किसी भी हाल में आपको Follow करना होता है, चाहे मौसम में परिवर्तन आये, या दुनिया में कुछ भी हो जाए, बारिश, आँधी या कैसी भी बाधा हो वो आपके दिनचर्या को ना बदल पाए I आपकी दिनचर्या में कोई भी दिन ऐसा ना हो जब आप अपनी कार्य को किसी कारण ना करें I यही साधना आपको औरों से बेहतर बनाएगी और आपको अपने लक्ष्य तक ले जाएगी I और आप हर दिन अपना कार्य करते रहे तो आप अपने कार्य में महाभारत के अर्जुन की तरह निपुण हो जाएंगे I यही आपको एक दिन सबसे अलग और बेहतरीन बनाएगा I

एक मैग्जीन ने क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का इंटरव्यू लिया और इंटरव्यू में उनसे पूछा कि जिस दिन आप दोहरा शतक या बड़ा स्कोर करते हैं उसके अगले दिन क्या करते हैं, सचिन तेंदुलकर का जवाब था मॉर्निंग में Same Time नेट प्रैक्टिस I एक ऐसा खिलाड़ी जिसके पास सब कुछ हो वह टेस्ट मैच में दो दिन लगातार Betting करने के बाद आराम नहीं करता, बल्कि सुबह उठकर सालों से तय समय पर नेट प्रैक्टिस करता है I शायद ये एक बहुत बड़ा कारण है जो उनको सबसे बेहतर बनाता है I

मैं भाग्य के बजाय कड़ी मेहनत में बहुत विश्वास रखता हूं। चुनौतियों का डटकर सामना करना चाहिए।

आप या हम जब अपने किसी छोटे से कार्य में भी सफल हो जाते हैं तो अगले दिन की दिनचर्या बदल जाती है, या कभी-कभी तो पूरे सप्ताह की दिनचर्या बदल जाती है I हम एक लक्ष्य प्राप्त करने के बाद इतना खुश हो जाते हैं कि हमें लगता है कि अब सब हो जाएगा I लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है I बहुत ऊचाईयों पर पहुंचने के बाद भी कई सफल लोग अपने जीवन में काफी बुरे हालात में पहुंच गए I कभी जिनके पास समय नहीं होता था उनको मैंने पूरा दिन, महीना और साल खाली देखा है I मैंने उनके जीने का तरीका बदलते देखा है I जिनके लिए लोग घंटों इंतजार करते थे उनको मैंने इंतजार करते देखा है I ऐसी स्थिति में रोते हुए भी देखा है जो समझते थे कि अब इस उम्र में कुछ नहीं होगा I

जिनके पास इतना कुछ था कि उन्हें लगा ही नहीं कि ये सब एक दिन में ख़त्म हो जाएगा और फिर ऐसे दिन भी देखने पड़ेंगे जब लोगों से खुद को छुपाना पड़ेगा I आपने ही घर से बाहर रहना पड़ेगा. चाहकर भी अपने बिस्तर पर सो नहीं पाएंगे I

इस तरह के हालात को देखते हुए मुझे ये अनुभव हुआ कि जीवन में कभी भी और कितना भी हो, आप पूर्ण नहीं हो सकते हैं I आप ये नहीं कह सकते हैं कि अब क्या, क्योंकि एक मृत्यु ही है जिसके बाद आपको सारी दुनिया की चीजों से मुक्ति मिल जाती है I इस दुनिया में हर व्यक्ति खुशहाल जीना चाहता है I अपनी इच्छाओं को पूरा करना चाहता है I दुनिया की सारी सुख सुविधाओं का भोग करना चाहता है I

कड़ी मेहनत और प्रयास से आप कुछ भी हासिल कर सकते हैं।अपने लक्ष्य के लिए सही निर्णय लेना बहुत महत्वपूर्ण है।

इस दुनिया में हर व्यक्ति खुशहाल जीना चाहता है I अपनी इच्छाओं को पूरा करना चाहता है I दुनिया की सारी सुख सुविधाओं का भोग करना चाहता है I

मैं अपने जीवन में कई ऐसे लोगों से मिला जो सफल होने के बाद ज्यादा दुखी थे, क्योंकि सफ़लता के बाद जिम्मेदारी बढ़ती जा रही थी और आज के समाज में Status Maintain करना I दूसरों को देखकर महंगे शौक पूरा करना ये सब आम बात है इसका भी काफी सारा दुष्परिणाम है I जिसकी चर्चा हम किसी और समय करेंगे लेकिन इसका जो सबसे बड़ा और घातक दुष्परिणाम है वह ये है कि ये एक अच्छे खासे इंसान को कर्ज के जाल में फंसा देता है I कर्ज के बोझ तले किसी वृद्ध असहाय इंसान के ऊपर रखे हुए भारी अनाज की बोरी की तरह दबा देता है I जैसे एक वृद्ध असहाय व्यक्ति अपनी क्षमता से अधिक भारी बोझ उठाकर चलने में भी सक्षम नहीं रह जाता है I

उसी तरह इस समाज की चकाचौंध में कई व्यक्ति अपने जीवन में कर्ज के तले बुरी तरह दब जाते है असहाय हो जाते है I जीवन से सारी खुशियाँ छीन जाती है जीवन नीरस हो जाता है और इसी उलझन में उलझ कर उनके जीवन की दिशा बदल जाती है I लेकिन ऐसा व्यक्ति जो निरंतर अपने कार्य को अपनी दिनचर्या के अनुसार करता रहता हैं I वो ऐसे संकट से भी आसानी से बाहर आ जाता हैं और यही उनके द्वारा किए गए कार्य का सबसे अनमोल फल होता है I

आपकी मेहनत ही आपको लक्ष्य तक ले जाएगी। सही रास्ता चुनने से सही दिशा बनती है

जो जीवन के सारे दुखों का निवारण कर उसकी आने वाले समय को खुशियों से भर देता है I परीक्षा की तैयारी अगर मन लगा कर की गई हो तो उसका परिणाम आपका जीवन बदल देता है I कभी-कभी इसमें समय जरूर लगता है लेकिन आपका दृढ़ संकल्प और खुद पर किया गया, विश्वास कभी खाली नहीं जाता और एक दिन आप सफल होते हैं और फिर आपके द्वारा झेली गई तकलीफ आपको खुशी देती है I

IMRudra_MotivationalBlog2_Footer Strip

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *